हीरे सम जीवन | Inspirational story

∗हीरे सम जीवन∗

– Inspirational story –

diamond

“पत्थर सम हीरे”

हीरा स्वयं बोलकर नहीं बता सकता है कि उसकी कीमत कितनी है. उसकी कीमत लोगों को तरासने के बाद अच्छी तरह समझ में आती है. इसी तरह हमारा जीवन अपने आप नहीं बोलेगा कि इसकी कीमत कितनी है. हीरे की तरह यह मानव जीवन भी अमूल्य है. इसे हमें पहचानना होगा और सही उद्देश्य के लिए लगाना होगा और हमें हमारे जीवन को हीरे की तरह तरासना होगा. तभी हमारे जीवन का सही मूल्यांकन हो पायेगा. इसी तथ्य को साबित करती यह कहानी जरूर पढ़ें :

एक हीरा व्यापारी था. वो अपने समय का माना हुआ हीरों विशेषज्ञ था. किन्तु गंभीर बीमारी के कारण उसकी कम आयु में ही उसकी मृत्यु हो गयी. अपने पीछे वह अपनी पत्नी और बेटा छोड़ गया.

जब बेटा बड़ा हुआ तो उसकी माँ ने कहा- “बेटा, मरने से पहले तुम्हारे पिताजी ये पत्थर छोड़ गए थे, तुम इसे लेकर बाज़ार जाओ और इसकी कीमत का पता लगाओ, ध्यान रहे कि तुम्हें केवल कीमत पता करनी है, इसे बेचना नहीं है.”

युवक पत्थर लेकर निकला, सबसे पहले उसे एक सब्जी बेचने वाली महिला मिली.

युवक ने पूछा – ”अम्मा, तुम इस  पत्थर के बदले मुझे क्या दे सकती हो?”,

सब्जी वाली बोली – “देना ही है तो दो गाजरों के बदले मुझे ये दे दो… तौलने के काम आएगा.”

युवक आगे बढ़ गया. इस बार वो एक दुकानदार के पास गया और उससे पत्थर की कीमत जानना चाही.

दुकानदार बोला – “इसके बदले मैं अधिक से अधिक 400 रूपये दे सकता हूँ… देना हो तो दो नहीं तो आगे बढ़ जाओ.”

युवक इस बार एक सुनार के पास गया. सुनार ने पत्थर के बदले 15 हज़ार देने की बात की. फिर वह हीरे की एक प्रतिष्ठित दुकान पर गया वहां उसे पत्थर के बदले 1 लाख रूपये का प्रस्ताव मिला.

अंत में युवक शहर के सबसे बड़े हीरा विशेषज्ञ के पास पहुंचा और बोला – “श्रीमान, कृपया इस पत्थर की कीमत बताने का कष्ट करें.”

हीरा विशेषज्ञ ने ध्यान से पत्थर का निरीक्षण किया और आश्चर्य से युवक की तरफ देखते हुए बोला – “यह तो एक अमूल्य हीरा है, इसे तरासने  की जरुरत है. तरासने के बाद ऐसा हीरा करोड़ों रूपये में भी मिलना मुश्किल है.”

diamond 1

=============

निवेदन : 1. कृपया अपने Comments से बताएं आपको यह Post कैसी लगी.

  1. यदि आपके पास Hindi में कोई Inspirational Story, Important Article या अन्य जानकारी हो तो आप हमारे साथ शेयर कर सकते हैं. कृपया अपनी फोटो के साथ हमारी e mail ID : sahisamay.mahesh@gmail.com पर भेजें. आपका Article चयनित होने पर आपकी फोटो के साथ यहाँ प्रकाशित किया जायेगा.

=============

4 Comments

Add a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *