Idea creation in Hindi | आईडिया कैसे बनता है?

आईडिया कैसे बनता है?

( Idea creation )

 

idea creation कैसे होता है. Idea बनाना आसान है. दिमाग में Idea को भूत मत बनाओ. दुनिया की समस्त मूल चीजें प्रकृति में मौजूद है. उन्ही को मिलाकर नयी चीज का निर्माण किया जाता है. जिसे हम idea भी कहते हैं.

 

Idea जितना सरल सामान्य होगा, उतना ही ज्यादा कारगर होगा. उदाहरण के तौर ज्यादातर लोगों को खाना packing में समस्या रहती है. साधारण टिफिन में खाना ठंडा हो जाता है. उनको lunchbox या टिफ़िन में खाना गर्म चाहिये.

 

लोगों को ऐसे टिफ़िन की जरुरत थी जिसमे खाना 6 घंटे तक गर्म रहे. एक बन्दे को idea आया कि, टिफ़िन या lunchbox को इस तरह design करे कि जिसमें खाना 5 से 6 घंटे गर्म रहे. और उसने थर्मो इन्सुलेटर का use कर ऐसा टिफ़िन तैयार कर लिया.

 

 

यहाँ सोचने वाली बात ये है कि tiffin व थर्मो इन्सुलेटर पहले ही मौजूद थे. उस बन्दे ने इनको मिलाकर hot case टिफ़िन तैयार कर बाजार में उतार दिया. आगे उसकी मेहनत काम आयी. आज आप जानते हैं, हर कोई hot case टिफ़िन में ही खाना मांगना या साथ carry करना पसंद करता है. इसी demand के कारण उसके इस startup को पंख लगने ही थे.

 

एक और उदाहरण लें. Apple ने iPhone बनाया. इसमें नया कुछ भी नहीं किया गया. सेल phone और समस्त apps व technology पहले से ही मौजूद थी. मगर Apple  ने  समस्त technology बढ़िया ढंग से use कर consumers के लिए ज्यादा सुविधाजनक  नया iPhone बनाया. आगे आप जानते ही हैं. आज iPhone लोगों पहली पसंद है.

 

 

मेरे एक मित्र ने एक पोस्ट पर ideas के बारे में कमेंट किया. उन्होंने दुःख व्यक्त किया कि, “क्या करें कोई idea आता ही नहीं?” मित्रों idea कोई भगवान के घर से बरसता नहीं है.

 

जैसे मैं कोई पोस्ट लिखता हूँ, तब मुझे कभी मालूम नहीं होता कि पोस्ट का अंतिम स्वरूप क्या होगा? पोस्ट का heading क्या होगा? आप इसी पोस्ट उदाहरण ले सकते हैं. idea पर पोस्ट को लिखने का idea मुझे एक comment से आया. ये भी एक इनोवेटिव idea है.

 

इसके बाद मैंने memory recollect करना शुरू किया. साथ ही सोचना व research करना शुरू किया. सारी मेहनत की packaging करके ये पोस्ट आपके सामने है.

 

idea को थोड़ा सरल भाषा परिभाषित किया जा सकता है. idea समस्या के समाधान हेतु उपलब्ध संसाधनों का repackaging करना है. और सरल कहा भाषा में – आप जो कुछ भी करना चाहते हो उसको करने का तरीका ही idea है. जैसे यह पोस्ट, जो आप लगन से पढ़ रहे हो.

 

idea सामान्य मानविकी समस्याओं का समाधान करना है. भारत में सामान्य लोगों की समस्याओं की कोई कमी नहीं है. आपको करने की इच्छा शक्ति दिखानी होगी. काम आपको करना पड़ेगा.

 

आपको समस्या की पहचान करनी है. उसका समाधान देना है. यही idea है. यहाँ आपको समस्या की पहचान बाद माथापच्ची करनी है. इसके लिए आपको दिमाग में कोई बहुत बड़ा भूत नहीं पालना है. आप अपनी memory को recollect करें. थोड़ा research करें. फिर उपलब्ध संसाधनों से repackaging चालू करें. लगातार प्रयोग करें. मिलने वाले परिणामों की लोगों से चर्चा करें. विश्वास रखें Finally आपका idea, hit होना ही होना है.

 

ऐसे कई दृष्टान्त मिल जायेंगे. जो आम हैं. जिनको समझने किसी data की जरूरत नहीं है. आप अपनी क्षमता अनुसार मुद्रा बैंक की सहायता से अपने idea को मूर्तरूप दे सकते हैं.

 

आपको अपने idea की सफलता सुनिश्चित करने के लिए पांच चीजों ध्यान रखना जरुरी है. आपके product की design उत्तम हो. उपयोगी हो. उपयोग आसान हो. इंजीनियरिंग perfect हो. quality श्रेष्ठ हो. आपका idea 100% टिकाऊ और बिकाऊ होगा.

Thanks best of luck.

=============

निवेदन : 1. कृपया अपने Comments से बताएं आपको यह Post कैसी लगी.

  1. यदि आपके पास Hindi में कोई Inspirational Story, Important Article या अन्य जानकारी हो तो आप हमारे साथ शेयर कर सकते हैं. कृपया अपनी फोटो के साथ हमारी e mail ID : sahisamay.mahesh@gmail.com पर भेजें. आपका Article चयनित होने पर आपकी फोटो के साथ यहाँ प्रकाशित किया जायेगा.

=============

Add a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *