Category : हिंदी कहानियाँ

38 posts

∗शिवाजी के प्रेरक प्रसंग∗ शिवाजी जन्म जयंती 19 फ़रवरी – पुण्य तिथि 3 अप्रैल. 1. शिवाजी का अनिंद्य सुन्दरी गौहर बानू के प्रति असीम सम्मान जब शिवाजी ने 1659 ई. के अंत में कल्याण दुर्ग पर विजय प्राप्त की. तत्कालीन परंपरा के अनुसार विजेता का अधिकार विजित की महिलाओं पर भी होता था. गौहर बानू …
∗शिवाजी का आगरा जेल से फलों की टोकरियों में निकलना∗   शिवाजी महाराज को समाप्त में अफजल खाँ, सिद्दी जौहर व औरंगजेब के मामा शाइस्ता खाँ के अभियान फ़ैल हो जाने पश्चात चौथा अभियान आगरा किले की जेल में रचा गया. बहिर्जी नाईक की गुप्तचर सूचनाओं के आधार पर आमजन को परेशानी में डाले बिना सूरत …
∗शिवाजी और शाइस्ता खाँ∗    (6 अप्रैल 1663 को : सूर्यास्त होने वाला था. शिवाजी के सब सैनिक अलग-अलग योजना से पुणे में घुसे.) 1. आदिलशाह द्वितीय की औरंगजेब अपील : शिवाजी द्वारा अफजल खाँ का वध करने के बाद आदिलशाह द्वितीय ने सिद्दी जौहर के नेतृत्व में शिवाजी को समाप्त करने के उद्देश्य से …
∗शिवाजी और सिद्दी जौहर∗   — शिवाजी कासिद, पन्हालगढ़ — 1. अफजल खाँ की शिकस्त के बाद : छत्रपति शिवाजी महाराज ने अफजल खाँ को प्रतापगढ़ में मारने के बाद आदिलशाही में आक्रमण कर पन्हालगढ जैसे महत्त्वपूर्ण गढ़ पर कब्ज़ा कर लिया. तब आदिलशाह द्वितीय ने सिद्दी जौहर को “सलाबत जंग”, खटाव प्रांत की सेना …
∗अफज़ल खाँ और शिवाजी∗ 1 नवम्बर 1656 को बीजापुर के सुल्तान आदिलशाह की मृत्यु हो गई. इससे बीजापुर में अराजकता का माहौल पैदा हो गया. इस स्थिति का लाभ उठाकर औरंगज़ेब ने बीजापुर पर आक्रमण कर दिया और शिवाजी ने औरंगजेब का साथ देने की बजाय उस पर धावा बोल दिया. फलस्वरूप औरंगजेब शिवाजी से …